- Advertisement -
- Advertisement -

Kangana Ranaut के खिलाफ कृषि बिल वाले बयान को लेकर कर्नाटक के तुमकुर की एक अदालत में क्रिमिनल केस हुआ दर्ज

Case filed against Kangana in Karnataka: बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत (Kangana Ranaut) पिछले काफी दिनों से अपने बयानों को लेकर विवादों में बनी हुई हैं।


Case filed against Kangana in Karnataka: बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत (Kangana Ranaut) पिछले काफी दिनों से अपने बयानों को लेकर विवादों में बनी हुई हैं। एक्ट्रेस के उप्पर एक के बाद एक मुसीबतें दस्तक दे रही है। एक्ट्रेस इन दिनों अपने बयांन को लेकर सोशल मीडिया की हेडलाइंस में बन जाती है। हालही में एक्ट्रेस ने कृषि बिल (Agricultural Bill) को लेकर एक ट्वीट किया था, जिसके बाद से एक्ट्रेस के इस ट्वीट का जमकर विरोध कुछ लोगों द्वारा किया गया। अब हालही में एक्ट्रेस के खिलाफ कर्नाटक के तुमकुर की एक अदालत में क्रिमिनल केस दायर किया गया है।

कंगना रनौत के खिलाफ किसानों (Farmers) के अपमान का आरोप लगाते हुए केस दायर किया गया है। दायर केस में कहा गया है कि कंगना रनौत ने कृषि बिल का विरोध कर रहे किसानों का ट्वीट करके अपमान किया है। बता दे, दरअसल हुआ यू, कृषि बिल को लेकर कंगना रनौत के एक ट्वीट को लेकर कहा जा रहा था कि उन्होंने किसानों का अपमान किया है। इस ट्वीट को लेकर कई जगह किसानों ने विरोध प्रदर्शन भी करते नजर आए। हालांकि, बाद में सफाई देते हुए कंगना रनौत ने कहा कि उन्होंने किसानों का अपमान नहीं किया है।

बता दें कि केंद्र सरकार के कृषि बिल के खिलाफ किसान संगठन देशभर में विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। इन कृषि विधेयकों के खिलाफ 25 सितंबर को किसान और राजनीतिक संगठनों ने भारत बंद रखा था। किसानों के भारत बंद का मिलाजुला असर देखने को मिला। किसान कृषि बिल का विरोध इसलिए कर रहे हैं क्योंकि उन्होंने लगता है कि नए विधयकों से मंडी व्यवस्था खत्म हो जाएगी और न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) प्रणाली खत्म हो जाएगी। इससे बड़े कारोबारी किसानों के उत्पाद औने-पौने दाम पर खरीदकर जमाखोरी करेंगे।

ये भी पढ़े: NCB Interrogation: दीपिका पादुकोण ने पूछताछ 6 घंटे बाद NCB ऑफिस छोड़ा, श्रद्धा कपूर, सारा अली खान से पूछताछ जारी

क्या था कंगना का ट्वीट?

कंगना ने पीएम मोदी के ट्वीट पर लिखा है- ‘प्रधानमंत्री जी कोई सो रहा हो उसे जगाया जा सकता है, जिसे ग़लतफ़हमी हो उसे समझाया जा सकता है, मगर जो सोने की ऐक्टिंग करे, नासमझने की ऐक्टिंग करे उसे आपके समझाने से क्या फ़र्क़ पड़ेगा? ये वही आतंकी हैं, CAA से एक भी इंसान की सिटिज़ेन्शिप नहीं गयी, मगर इन्होंने ख़ून की नदियां बहा दी। इसके बाद कंगना ने लिखा- ‘जैसे श्री कृष्ण की नारायणी सेना थी, वैसे ही पप्पु की भी अपनी एक चंपू सेना है जो की सिर्फ़ अफ़वाहों के दम पे लड़ना जानती है, यह है मेरा ऑरिजिनल ट्वीट अगर कोई यह सिद्ध करदे कि मैंने किसानों को आतंकी कहा, मैं माफ़ी माँगकर हमेशा के लिए ट्विटर छोड़ दूंगी।

Case filed against Kangana in Karnataka
- Advertisement -